KYC के नाम पर झांसे में फंसी पूर्व बैंक मैनेजर:गुरुग्राम

गुरुग्राम :  हरियाणा के गुरुग्राम में पूर्व बैंक मैनेजर महिला ही साइबर ठगों का शिकार हो गई। KYC अपडेट नहीं होने का मैसेज आने के बाद महिला को शातिर ठगों ने निशाना बनाया और 25 लाख रुपए की नकदी अकाउंट से निकाल ली। DLF फेस-3 थाना पुलिस ने धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, गुरुग्राम के एमजी रोड स्थित डीएलएफ इलाके की पॉश सोसायटी में रहने वाली पूर्व बैंक मैनेजर चित्रा मित्रा SBI में अकाउंटेंट है। दिसंबर माह में उनके पास मोबाइल पर एक मैसेज आया, इसमें कहा गया कि उनके बैंक अकाउंट का KYC अपडेट नहीं है। ऐसा न होने के कारण उनका अकाउंट बंद कर दिया जाएगा। मैसेज के साथ कॉल करने के लिए फोन नंबर भी दिया था। महिला पूर्व बैंक मैनेजर ने उस नंबर पर फोन किया तो शातिर ठग ने उनके बैंक अकाउंट संबंधी पूरी जानकारी हासिल कर ली। इसके बाद वारदात को अंजाम दिया।

शातिर व्यक्ति ने पूर्व मैनेजर के खाते से कुछ दिन के भीतर ही अलग-अलग ट्रांजेक्शन कर 25 लाख रुपए निकाल लिए। महिला ने इसकी शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने मामले की जांच की तो पता चला कि उनके साथ ठगी हुई है। डीएलएफ फेस-3 थाना पुलिस

ने धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। हालांकि 4 माह बीत जाने के बाद

भी पुलिस शातिर ठग का पता नहीं लगा पाई है। पुलिस का कहना है कि

जिस खाते में नकदी ट्रांसफर हुई, उसकी डिटेल के आधार पर आरोपियों

की तलाश की जा रही है।