बारिश में जल भराव समस्या से निपटाने के लिए रेवाड़ी जिला प्रशासन ने कसी कमर:

रेवाड़ी:

डीसी अशोक कुमार गर्ग ने कहा कि मानसून सीजन में जल भराव समस्या से निपटाने के लिए समय रहते सम्बंधित अधिकारी पुख्ता प्रबन्ध करें, ताकि बरसात के मौसम में कहीं भी जलभराव की समस्या ना आयें। उन्होंने कहा कि सम्बंधित विभाग अपने-अपने कार्यरत पम्पों की जांच कर ले कि वे अच्छे से कार्य कर रहें हैं और बरसात के मौसम में कहीं भी कोई समस्या नहीं आयेंगी। वहीं सम्बंधित उपमण्डल अधिकारी (ना.) अपने-अपने उपमण्डल में पम्पों का निरीक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें और अल्प, मध्यम व दीर्घकालीन योजनाओं का कार्य समय पर पूरा किया जायें।
डीसी ने कहा कि रेवाड़ी जिला में बरसाती मौसम से पूर्व ही जल निकासी के प्रबंध सुनिश्चित किए जाएं। किसी भी रूप से जिला में जलभराव की स्थिति उत्पन्न न हो इसका विशेष ध्यान रखते हुए सही कदम उठाए जाएं। यह निर्देश डीसी अशोक कुमार गर्ग ने गुरूवार को मुख्य सचिव संजीव कौशल कि बाढ नियन्त्रण प्रबंधन के सन्दर्भ में विडियो कांफ्रेंसिग बैठक के उपरांत जिला अधिकारियों को सम्बोधित करते हुए दिए।
उन्होंने कहा कि बरसात का मौसम शुरू होने से पहले सभी चैनलों की सफाई कराएं और जहां जरूरत हो वहां पम्प सैट की व्यवस्था सुनिश्चित करेंं। डीसी ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी वाटर चैनल की सफाई का कार्य व मैनेटेनेंस का कार्य शीघ्र पूरा करें। उन्होंने कहा कि जिला में जलभराव की समस्या उत्पन्न न हो इसके लिए पहले से ही तैयारियां की जाएं और लोगों को परेशानी न हो इस पर फोकस रखें। उन्होंने कहा कि बाढ़ से बचाव के लिए सिंचाई विभाग व जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग द्वारा पूरी तैयारियां रखी जाएं, ताकि संभावित प्रभावित क्षेत्रों में कोई परेशानी न आए। उन्होंने कहा कि बरसात के समय में ड्रेनों के साथ खेतों की फसलों का व अन्य नुकसान न हो, इसके लिए जरूरी है कि समय रहते सफाई कार्य करवाए जाएं।
विभागीय स्तर पर सजग हैं सभी विभाग :सिंचाई विभाग के अधीक्षक अभियंता रविन्द्र पाल सिंह ने बताया कि गत वर्ष बरसात के दौरान जिन क्षेत्रों में जलभराव की स्थिति उत्पन्न हुई थी, उस स्थिति से निपटने के लिए विभागीय स्तर पर पर्याप्त प्रबंध किए जा रहे हैं। योजनाबद्ध तरीके से कदम उठाते हुए ड्रेन पर पम्प हाउस व पम्प सैट पर सभी कार्य पूर्ण किए जा रहे हैं और प्रयास है कि जिले में कहीं भी जलभराव की स्थिति का सामना नहीं करना पड़ेगा।
वीडियो कांफ्रेंस में एडीसी स्वप्निल रवींद्र पाटिल, एसडीएम रेवाड़ी सिद्धार्थ दहिया, एसडीएम कोसली होशियार सिंह, अतिरिक्त सीईओ जिला परिषद जयप्रकाश, डीडीपीओ एचपी बंसल, डीआरओ राकेश कुमार सहित सिंचाई, जन स्वास्थ्य, पंचायती राज, लोक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता, नगर परिषद व नगर पालिका के अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

Next Post

गांधी की जिंदगी हमेशा ही अधिक कठिन संघर्ष चुनने की जिंदगी रही है।:

Fri Jun 24 , 2022
महात्मा गांधी पूरी तरह से मौलिक क्रांतिकारी थे । उस कोमल भारतीय महात्मा ने स्वतंत्रता की लड़ाई लड़ने की एक ऐसी कठोर शैली प्रस्तुत की जिसकी काट ब्रिटिश सरकार अंततः नहीं खोज पायी तथा जिसकी शक्ति और मौलिकता की संपूर्ण विश्व में कोई मिसाल नहीं थी। गांधी की जिंदगी हमेशा […]