पिता ने फल बेचकर बनाया क्रिकेटर, बेटा बना रफ्तार का सौदागर, मचा रहा है धमाल

इस गेंदबाज ने नेट बॉलर के तौर पर शुरुआत की थी और आज उसी फ्रेंचाइजी का मुख्य गेंदबाज बना बैठा है. इस तूफानी गेंदबाज को टीम इंडिया का भविष्य कहा जाता है.

भारत क्रिकेट की दुनिया में उन देशों में से रहा है जिसने कभी तूफानी गेंदबाज पैदा नहीं किए. तूफानी गेंदबाज मतलब शोएब अख्तर, ब्रेट ली जैसे. जिनकी रफ्तार के सामने बल्लेबाज क्रीज छोड़ दे. लेकिन अब ये कमी पूरी होती दिख रही है क्योंकि टीम इंडिया के पास एक ऐसा गेंदबाज मौजूद है जो 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से लगातार गेंदबाजी करने का दम रखता है. इस गेंदबाज का नाम है उमरान मलिक.उमरान मलिक का आज यानी 22 नवंबर को जन्मदिन है.

उमरान इस समय न्यूजीलैंड दौरे पर टीम इंडिया के साथ हैं. वह भारत के लिए तीन टी20 मैच खेल चुके हैं और दो विकेट भी अपने नाम कर चुके हैं. इस गेंदबाज ने नेट गेंदबाज के तौर पर आईपीएल फ्रेंचाइजी में कदम रखा था और आज वह इस टीम के मुख्य गेंदबाजों में गिने जाते हैं.

ऐसे शुरू हुआ सफर

साल 1999 में जम्मू-कश्मीर में जन्मे उमरान मलिक के पिता अब्दुल राशिद फल बेचते थे. लेकिन गरीबी के बावजूद भी उन्होंने कभी अपने बेटे की इच्छा को मारा नहीं और उन्हें क्रिकेट में पूरा समर्थन दिया. एक इंटरव्यू में राशिद ने कहा था कि वह अपने बेटे की किसी भी ख्वाहिश को मना नहीं करते थे लेकिन साथ ही उनसे पढ़ाई पर ध्यान देने को भी कहते थे.उमरान मलिक के करियर की शुरुआत गली क्रिकेट से हुई थी. वह टेनिस बॉल से खेला करते थे.

लेकिन सनराइजर्स ने जब उन्हें आईपीएल 2020 के लिए अपने नेट गेंदबाज के तौर पर चुना तो उन्होंने सभी का ध्यान अपनी तरफ खींचा. इसके बाद तो वह इस टीम के सितारे बन गए.

आईपीएल में मचा चुके हैं कोहराम

उमरान मलिक की ताकत स्विंग नहीं है. उनकी ताकत है उनकी तेजी. वह लगातार 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करने का दम रखते हैं. आईपीएल 2022 में इस गेंदबाज ने अपनी तूफानी गेंदबाजी से रिकॉर्ड बना दिए. उन्होंने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ खेले गए मैच में 157 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी की थी. ये आईपीएल के पिछले सीजन की सबसे तेज गेंद थी. आईपीएल-2022 की अगर टॉप-10 सबसे तेज गेंदें देखी जाएं तो इसमें नौ पर उमरान का नाम है. एक पर गुजरात टाइटंस के लिए पिछला सीजन खेलने वाले लॉकी फर्ग्यूसन हैं जिन्होंने 153.9 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंकी थी.

उमरान को भारत की भविष्य का सितारा कहा जा रहा है और इसलिए जब न्यूजीलैंड दौरे पर टी20 सीरीज में टीम इंडिया की कप्तानी कर रहे हार्दिक पंड्या ने दूसरे मैच में उन्हें मौका नहीं दिया था तो सभी को हैरानी हुई थी.

Share This:

Next Post

युवराज सिंह की बढ़ी मुश्किलें, गोवा सरकार ने क्रिकेटर को जारी किया नोटिस

Wed Nov 23 , 2022
सरकार द्वारा भेजे गए नोटिस में कहा गया- यह पता चला है कि वरचावाड़ा, मोरजिम, पेरनेम, गोवा में स्थित आपका आवासीय परिसर कथित रूप से होमस्टे के रूप में काम कर रहा है और ‘एयरबनब’ जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर इसकी मार्केटिंग की जा रही है। गोवा सरकार […]
error: Content is protected !!