नारनौल में बस रुकवाने लिए पिता ने तीन साल के बच्चे को फेंका बस के सामने: दुकानदारों-बस ड्राइवर की सूझबूझ से बच्चा सुरक्षित

हरियाणा के नारनौल में शराब में धुत्त एक शख्स ने अपने साल के बच्चे को बस के सामने फेंक दिया। ये शख्स बस को रुकवाना चाहता था और इसी चक्कर में उसने अपने बच्चे को ही बस के आगे फेंक दिया। हालांकि बस ड्राइवर और आसपास के दुकानदारों की सूझबूझ से बच्चे को बचा लिया गया।

नारनौल बस स्टैंड से शाम साढ़े 6 बजे रोडवेज की एक बस झुंझुनू (राजस्थान) के लिए रवाना हुई। बस स्टैंड के निकासी गेट से निकलकर बस जैसे ही कुछ आगे पहुंची, एक शख्स ने 3 साल के बच्चे को बस के सामने सड़क पर फेंक दिया। जिस शख्स ने बच्चे को फेंका, उसका नाम सुरेंद्र सिंह है और वह बलाहा कलां गांव का रहने वाला है। सुरेंद्र ने बस को रुकवाने के लिए यह हरकत की।

दुकानदारों ने बच्चे को बचाया

हालांकि आसपास के दुकानदारों ने फुर्ती दिखाते हुए तुरंत बच्चे को सड़क से उठाकर साइड में कर लिया। उस समय तक बस ड्राइवर ने भी ब्रेक लगा दिए। उधर इस घटना के बाद मौके पर भीड़ जमा हो गई। इसी बीच दुकानदारों ने पुलिस को डायल 112 पर भी सूचना दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस टीम बच्चे और उसके पिता सुरेंद्र को चौकी ले गई।

समाजसेवी को बुलाकर बच्चा सौंपा

बच्चे का पिता सुरेंद्र नशे का आदी है। बताया जा रहा है कि सुरेंद्र की पत्नी कुछ दिन पहले ही उसे छोड़कर चली गई। घटना के समय सुरेंद्र अपने बच्चे के साथ बस पकड़ने आया था। इस घटना के बाद पुलिस ने गोद बलाहा गांव के समाजसेवी विनोद कुमार को बुलाकर बच्चा उसे सौंप दिया। समाजसेवी विनोद ने बताया कि वह बच्चे को उसकी दादी को सौंप देगा। विनोद ने बताया कि सुरेंद्र का परिवार भी उससे काफी परेशान है।

Share This:

Next Post

श्रद्धा मर्डर केस में इन नौ गवाहों ने खोले कई राज;; ऐसे हत्यारे आफताब को किया बेनकाब

Mon Nov 21 , 2022
अब तक नौ ऐसे गवाह मिले हैं, जो श्रद्धा मर्डर केस में आफताब को फांसी दिलाने में अहम साबित हो सकते हैं। इनकी गवाही इस केस में काफी जरूरी हो गई है। आइए जानते हैं इनके बारे में सबकुछ। इन्होंने क्या-क्या गवाही दी है? अब तक इस […]
error: Content is protected !!