जेल से छूटते ही कैसे राजीव के हत्यारे नलिनी और रविचंद्रन ने रंग बदल दिया

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी हत्याकांड के छह दोषियों को समय-पूर्व रिहा किये जाने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले से नलिनी श्रीहरन का परिवार काफी खुश है। नलिनी की मां एस. पद्मा ने कहा खुशी के भाव शब्दों में बयां नहीं किये जा सकते। इस खुशी का कोई ठिकाना नहीं है, बल्कि (यह) असीम आनंद की अनुभूति के अलावा और कुछ नहीं है।

ravichandran and nalini

 

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने राजीव गांधी हत्या मामले में नलिनी श्रीहरन और आर पी रविचंद्रन समेत 6 दोषियों की समय पूर्व रिहाई का शुक्रवार को निर्देश दिया। जेल से रिहा होते ही रविचंद्रन और नलिनी ने ‘विक्टिम कार्ड’ खेलना शुरू कर दिया है। जेल से रिहा होने के बाद रविचंद्रन ने कहा कि उत्तर भारत के लोगों को हमें आतंकी या हत्यारे के तौर पर देखने की बजाय पीड़ित के रूप में देखना चाहिए। वहीं नलिनी ने दावा किया कि उसके इस दृढ़ विश्वास ने उसे इतने वर्षों तक जीवित रखा कि वह निर्दोष है। नहीं तो मैं अपनी जीवन लीला समाप्त कर लेती। क्या आपको लगता है कि मैंने पूर्व प्रधानमंत्री की हत्या की है। मेरे ऊपर हत्या के 17 मामले दर्ज किए गए हैं।

उत्तर भारत के लोगों को हमें आतंकवादी की तरह नहीं पीड़ित के रूप में देखना चाहिए

रिहाई के बाद रविचंद्रन ने कहा कि समय और सत्ता यह तय करती है कि कौन आतंकवादी है और स्वतंत्रता सेनानी है। समय बताएगा कि हम निर्दोष हैं चाहे हम आतंकवादी होने का ही आरोप क्यों न हो। 3 दशक बाद जेल से बाहर आने के बाद रविचंद्रन ने कहा कि समय हमें निर्दोष के रूप में आंकेगा। रविचंद्रन ने कहा कि उत्तर भारत के लोगों को हमें आतंकवादियों या हत्यारों की तरह नहीं बल्कि पीड़ित के रूप में देखना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट ने राजीव गांधी हत्याकांड में करीब तीन दशक से उम्रकैद की सजा काट रही नलिनी और पांच अन्य शेष दोषियों को समय से पहले रिहा करने का शुक्रवार को निर्देश दिया था।

नहीं तो मैं अपनी जीवन लीला समाप्त कर लेती

“मुझे इस विश्वास ने इतने साल तक जिंदा रखा कि मैं दोषी नहीं हूं। नहीं तो मैं अपनी जीवन लीला समाप्त कर लेती। क्या आपको लगता है कि मैंने पूर्व प्रधानमंत्री की हत्या की है।” नलिनी

नलिनी ने मुलाकात के बारे में एक सवाल का जवाब देते हुए यहां संवाददाताओं से कहा कि प्रियंका गांधी जब एक दशक पहले वेल्लोर केंद्रीय कारागार में उनसे मिलीं तो वे भावुक हो गईं और रो पड़ीं। फिलहाल कांग्रेस पार्टी की नेता गांधी ने नलिनी से मुलाकात के दौरान अपने पिता की हत्या के बारे में जानना चाहा था। नलिनी ने कहा कि वह जो कुछ भी जानती थी, उसके बारे में उन्हें बता दिया। उसने कहा कि मुलाकात में हुई अन्य बातों का खुलासा नहीं किया जा सकता क्योंकि यह प्रियंका के निजी विचारों से संबंधित है। नलिनी को 12 नवंबर को उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद रिहा कर दिया गया था।

Share This:

Next Post

सोनम ने बनवाईं है बेटे वायु कपूर के लिए आलिशान नर्सरी

Mon Nov 14 , 2022
बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनम कपूर हाल ही में मां बनी हैं और इन दिनों मदरहुड एन्जॉय कर रही हैं. 20 अगस्त को सोनम कपूर एक बेटे की मां बनी थीं, जिनका नाम उन्होंने वायु कपूर रखा है. सोनम कपूर अपने लाडले के साथ अक्सर तस्वीरें शेयर करती हैं. […]
error: Content is protected !!