ओल्ड गुरुग्राम मेट्रो को जल्द मिलेगी कैबिनेट से मंजूरी, मार्च तक शुरू होगा काम

ओल्ड गुरुग्राम (Old Gurugram) मेट्रो योजना को जल्द ही केंद्रीय कैबिनेट से मंजूरी के लिए भेजा जाएगा। केंद्रीय कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद धरातल पर काम शुरू होगा और गुड़गांव के लाखों लोगों को मेट्रो (Metro) का तोहफा मिल सकेगा।

केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने बताया कि ओल्ड गुरुग्राम मेट्रो प्रोजेक्ट को अधिकारी स्तर पर पीआईबी व फाइनेंस सेक्रेटरी की ओर से अंतिम मुहर लग गई है और जल्द ही इस योजना को मंजूरी के लिए कैबिनेट की बैठक में प्रस्ताव लाया जाएगा। उन्होंने बताया कि 6 हजार करोड़ की लागत से तैयार इस योजना पर मार्च तक काम शुरू कर दिया जाएगा।
राव ने कहा कि गुरुग्राम के हुड्डा सिटी सेंटर से एनएच 148 स्थित साइबर पार्क तक करीब 28.5 किलोमीटर मेट्रो लाइन को इस योजना के तहत बिछाया जाएगा। मेट्रो के अधिकारियों के अनुसार गुरुग्राम में मेट्रो की रीडरशिप 40 हजार प्रतिदिन से बढ़कर करीब सवा लाख प्रतिदिन हो जाएगी।

हुड्डा सिटी सेंटर से एनएच 148 साइबरपार्क तक करीब दो दर्जन स्टेशन

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि हुड्डा सिटी सेंटर से एनएच 148 साइबरपार्क तक करीब दो दर्जन स्टेशन बनाए जाएंगे। इस योजना में खास बात यह रहेगी कि बसई के पास बनाए जा रहे मेट्रो डिपो के साथ ही द्वारका एक्सप्रेसवे को भी जोड़ा जाएगा, जिसमें सेक्टर 101 के पास भी एक स्टेशन बनाने का प्रस्ताव है। 28.5 किलोमीटर लंबे हुड्डा सिटी सेंटर से साइबरपार्क 148 तक के मेट्रो रूट पर सेक्टर 45, सुभाष चौक, हीरो होंडा चौक, सेक्टर 37, सेक्टर 10 सेक्टर, बसई , सेक्टर 4, रेजांगला चौक, पालम विहार, सेक्टर 23 आदि स्टेशनों सहित करीब 2 दर्जन स्टेशनों का निर्माण किया जाएगा।
बसई के नजदीक बनने वाले मेट्रो डिपो के पास ही सेक्टर 101 के आसपास एक स्टेशन तैयार कर द्वारका एक्सप्रेसवे को भी इस मेट्रो रूट से जुड़ जाएगा ताकि द्वारका एक्सप्रेसवे के आसपास रहने वाले लोगों को भी इसका लाभ मिल सके। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ओल्ड गुरुग्राम मेट्रो रूट को लेकर पिछले वर्षों से केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी के लगातार संपर्क में रहे और डीपीआर की मंजूरी से लेकर अन्य औपचारिकताओं को पूरा करने के लिए उन्होंने लगातार हरियाणा के अधिकारियों व शहरी विकास मंत्रालय के अधिकारियों के बीच समन्वय कर योजना में लगी आपत्तियों को दूर करवाने में सेतु की भूमिका निभाई।
राव ने कहा कि पिछले वर्ष केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी व मुख्यमंत्री मनोहर लाल के साथ हुई बैठक में भी हरियाणा के अधिकारियों व शहरी विकास मंत्रालय के अधिकारियों की बैठक कर लगी आपत्तियों को काफी हद तक दूर करवाया गया था। मुख्यमंत्री मनोहर लाल भी इस विषय पर लगातार उनके संपर्क में थे।

ओल्ड गुरुग्राम को मेट्रो की सख्त आवश्यकता

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि गुड़गांव का विकास तेजी से हो रहा है, जिसके चलते यातायात का दबाव गुरुग्राम की सड़कों पर काफी बढ़ा है। उन्होंने कहा कि ओल्ड गुरुग्राम को मेट्रो की सख्त आवश्यकता उस समय से ही महसूस की जाने लगी थी जब हुड्डा सिटी सेंटर तक मेट्रो का निर्माण हुआ था। उन्होंने कहा कि योजना को सिरे चढ़ाने में तकनीकी कारणों से देर तो हुई, लेकिन अब योजना कैबिनेट की मुहर तक पहुंच गई है।
उन्होंने कहा कि मेट्रो के अधिकारियों ने उन्हें जानकारी दी है कि वर्तमान में हुड्डा सिटी सेंटर तक करीब 40 हजार यात्री प्रतिदिन यात्रा करते हैं। हुडा सिटी सेंटर से मेट्रो के विस्तार के बाद प्रतिदिन करीब सवा लाख लोग मेट्रो में यात्रा करेंगे इसका अनुमान लगाया गया है। राव ने कहा कि और गुरुग्राम मेट्रो का सर्कल करीब गुरुग्राम के हर कोने को जोड़ने का कार्य करेगा।

एयरपोर्ट से भी जुड़ेगी की मेट्रो लाइन

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि हुड्डा सिटी सेंटर से एनएच 148 साइबर पार्क तक बनने वाली मेट्रो लाइन को रेजांगला चौक से एयरपोर्ट मेट्रो-द्वारका मेट्रो से जोड़ने की योजना पर भी शहरी विकास मंत्रालय में कार्य तेजी से चल रहा है जिसकी मंजूरी भी जल्द होगी। उन्होंने बताया कि करीब 8 किलोमीटर मेट्रो रूट पर 7 स्टेशनों के निर्माण की योजना है। एयरपोर्ट मेट्रो से जुड़ने के बाद गुरुग्राम के लोगों का सीधा जुड़ाव एयरपोर्ट से हो जाएगा और मेट्रो स्टेशन पर ही सिक्योरिटी क्लीयरेंस भी यात्रियों को मिल सकेगी।
Share This:

Next Post

PNB के ग्राहकों के लिए खुश खबरी, ATM से पैसा निकालने के बदले नियम

Sun Nov 20 , 2022
पब्लिक सेक्टर के प्रमुख बैंकों में से एक पंजाब नेशनल बैंक जल्द ही अपने ग्राहकों को खुशखबरी दे सकता है। पीएनबी डेबिट कार्ड से ट्रांजेक्शन की लिमिट में बदलाव करने की तैयारी में है। सार्वजनिक क्षेत्र के अग्रणी बैंकों में से एक पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के […]
error: Content is protected !!