21 नवंबर को बन रहा है बहुत ही शुभ योग, ये उपाय करने से खराब किस्मत भी चमक उठेगी

हिंदू धर्म में हर तिथि का विशेष महत्व बताया गया है। इनमें से कुछ तिथियां बहुत ही खास होती हैं, इन्हीं में से एक तिथि है त्रयोदशी। इस तिथि पर प्रदोष व्रत किया जाता है, जो भगवन शिव से संबंधित हैं।

शिवजी को प्रसन्न करने के लिए कई विशेष व्रत किए जाते हैं, प्रदोष व्रत (Som Pradosh November 2022) भी इन्हीं में से एक है। ये व्रत प्रत्येक महीने के दोनों पक्षों की त्रयोदशी तिथि को किया जाता है। जिस वार के साथ त्रयोदशी तिथि का संयोग होता है, उसी के अनुरूप इसका नाम होता है जैसे यदि रविवार को प्रदोष व्रत है तो ये रवि प्रदोष कहलाएगा। इस बार 21 नंवबर को प्रदोष व्रत का संयोग बन रहा है। इस बार का प्रदोष व्रत बहुत ही खास है।

सोम प्रदोष के साथ-साथ 3 शुभ योग;

उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रवीण द्विवेदी के अनुसार, इस बार प्रदोष व्रत 21 नवंबर, सोमवार को किया जाएगा। प्रदोष व्रत पर सोमवार का संयोग बहुत कम बनता है। क्योंकि ये तिथि और वार दोनों ही शिव से संबंधित हैं, इसलिए इस व्रत का विशेष महत्व माना जाएगा। इस दिन सौभाग्य, आयुष्मान और और छत्र नाम के 3 अन्य शुभ योग भी दिन भर रहेंगे।

ये उपाय चमका सकते हैं किस्मत

ज्योतिषाचार्य पं. द्विवेदी के अनुसार, 21 नवंबर, सोमवार को सोम प्रदोष के शुभ योग में कुछ खास करने से बिगड़ी हुई किस्मत भी चमक सकती है। ये तिथि, वार और शुभ योग ज्योतिष से जुड़े उपायों को करने के लिए बहुत ही शुभ माने गए हैं। इस दिन शिवजी से जुड़े ये उपाय जरूर करना चाहिए…

उपाय- 1
यदि आपको सेहत से जुड़ी कोई परेशानी हैं तो सोम प्रदोष के शुभ संयोग में पहले शिवजी की पूजा करें और इसके बाद उसी स्थान पर बैठकर महामृत्युंजय मंत्र का जाप करें। अगर आप स्वयं ये उपाय न कर पाएं तो किसी योग्य ब्राह्मण से भी करवा सकते हैं। इससे आपकी परेशानी दूर हो सकती है।

उपाय- 2
शिवजी को प्रसन्न करने के लिए शिव चालीसा का पाठ करना भी एक अचूक उपाय है। सुबह स्नान आदि करने के बाद शिवजी की पूजा करें और इसके बाद शिव चालीसा का पाठ पूरे विधि-विधान से करें। इस उपाय से आपकी हर परेशानी दूर हो सकती है।

उपाय- 3
अगर आप धन लाभ चाहते हैं तो सोम प्रदोष के शुभ योग में पहले भगवान शिवजी की विधि-विधान से पूजा करें। इसके बाद शिवजी को अक्षत यानी चावल चढ़ाएं। इस बात का ध्यान रखें कि चावल टूटे हुए न हों। ये उपाय शिवपुराण में बताया गया है, जिससे धन लाभ के योग बनते हैं।

उपाय- 4
सोम प्रदोष के शुभ योग में शिवलिंग का रुद्राभिषेक करें। रुद्राभिषेक में विशेष मंत्रों द्वारा शिव का जल से अभिषेक किया जाता है। ये बहुत ही खास उपाय है जो विशेष मौकों पर किया जाता है। रुद्राभिषेक करने से व्यक्ति की हर परेशानी दूर हो सकती है।

Share This:

Next Post

वायुसेना में इन पदों पर आवेदन करने के बचे हैं चंद दिन, 12वीं पास करें अप्लाई, होगी अच्छी सैलरी..

Fri Nov 18 , 2022
उम्मीदवार दिए गए इन तमाम खास बातों को ध्यान से पढ़कर अप्लाई करें. साथ ही जो भी उम्मीदवार इस भर्ती प्रक्रिया के तहत IAF में नौकरी (Govt Jobs) करना चाहते हैं, वे इस भर्ती प्रक्रिया के तहत आवेदन कर सकते हैं. भारतीय वायुसेना (IAF) में नौकरी (Sarkari […]
error: Content is protected !!