जल्द ही 400 से ज्यादा तेज रफ़्तार वाली वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेने भारत में चलती हुई दिखाई देंगी

वंदे भारत ट्रेन की तेज रफ्तार से यात्रियों को कम समय में अपने गंतव्य पर पहुंचने का मौका मिल रहा है। 2025 तक देश में तेज रफ्तार वंदे भारत एक्सप्रेस का इतना जाल बिछ जाएगा कि बड़ी संख्या में यात्रियों का सफर में लगने वाला समय और कम हो जाएगा।

देश में वंदे भारत ट्रेन की तेज रफ्तार ने यात्रियों के सफर का समय और कम कर दिया है। लेकिन अभी तक कुछ राज्यों में चुनिंदा ट्रैक पर ही वंदे भारत दौड़ रही है। इसी बीच सरकार का प्लान है कि वर्ष 2025 तक देश में 278 वंदे भारत ट्रेनें तैयार हो जाएंगी। 2027 तक सभी वंदे भारत ट्रेनें पटरियों पर दौड़ती नजर आएंगी।

देश में आने वाले कुछ दिनों में अन्य राज्यों से भी वंदे भारत ट्रेन पटरियों पर दौड़ती नजर आएंगी। फिलहाल seventy eight वंदे भारत ट्रेनों को रेलवे की चेन्नई स्थित आईसीएफ और प्राइवेट कंपनी मेधा मिलकर तैयार कर रही है। इसके अलावा four hundred वंदे भारत ट्रेनें और बनाई जाने वाली हैं।इनको भी प्राइवेट कंपनियां तैयार करेगी। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार रेलवे मंत्रालय इस महीने two hundred नई वंदे भारत ट्रेनों का टेंडर कराएंगी। संभवत: वंदे भारत ट्रेनों के टेंडर प्रक्रिया फाइनल हो जाएगी।

इसी महीने होगा two hundred नई वंदे भारत ट्रेनों का टेंडर

इसमें कौन सी कंपनी ये ट्रेनें तैयार करेगी ये भी तय हो जाएगा। इसमें दो अलग अलग कंपनियां ट्रेन सेट को बनाएंगी। टेंडर प्रक्रिया में जो कंपनी सबसे कम बोली लगाएगी उसे one hundred twenty ट्रेनें बनाने का आर्डर मिलेगा। टेंडर प्रक्रिया में दूसरे नंबर पर रहने वाले कंपनी को eighty वंदे भारत ट्रेन बनाने का काम मिलेगा।

केंद्र सरकार ने सभी ट्रेनों को चलाने की दी मंजूरी

केंद्र सरकार ने अभी देशभर में 278 वंदे भारत ट्रेनों को चलाने की मंजूरी दी है। इनमें से seventy eight ट्रेनों पर तेजी से काम हो रहा है। वहीं four hundred नई वंदे भारत को स्लीपर क्लास में तैयार किया जाएगा। इनमें two hundred का टेंडर इस महीने फाइनल हो जाएगा।

जानिए कितनी होगी इन ट्रेनों की अ​धिकतम स्पीड

ये सभी 278 ट्रेनें one hundred sixty की अधिकतम स्पीड से चलेंगी और सभी स्टेनलेस स्टील की होंगी। शुरुआती seventy eight ट्रेनों के बाद जो two hundred वंदे भारत ट्रेनें बनेंगी, वो टेंडर के दो साल के अंदर बन कर तैयार हो जाएंगी। यानी ये ट्रेनें 2025 तक बनकर तैयार हो जाएंगी।

जानकारी के अनुसार, शुरुआत की 278 वंदे भारत ट्रेन one hundred sixty किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के लिए चलेगी। अभी वंदे भारत ट्रेन a hundred thirty किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही है। जब सभी 278 ट्रेन पटरी पर उतर जाएगी तब इनकी स्पीड two hundred किलोमीटर प्रति घंटे की कर दी जाएगी।

वंदे भारत पर 2022 में fifty six बार हुआ पथराव

वंदे भारत ट्रेन जहां एक और तेज रफ्तार की नई इबारत लिख रही है। वहीं इस ट्रेन के साथ विवाद भी कम नहीं है। इस ट्रेन को जहां तहां पत्थरबाजी के लिए बदनाम होना पड़ा है। इस ट्रेन पर पथराव के 2022 में कुल fifty six मामले दर्ज हुए। रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) ने ऐसे अपराधों को रोकने के लिए `ऑपरेशन जनजागरण` के तहत जागरुकता अभियान चलाया।

देशदुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्मकर्मपाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें Social Awaj News ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Social Awaj फेसबुकपेज लाइक करें

 

Share This:

Next Post

राजस्थान में रेप के 41 प्रतिशत केस झूठे- DGP का दावा; तो MP है बलात्कार के मामलों में नंबर वन?

Fri Jan 20 , 2023
​ 2021 के मुकाबले 2022 में 11 फीसदी से ज्यादा अपराध का ग्राफ प्रतिशत बढ़ने को डीजीपी उमेश मिश्रा ने तर्क-दोष बताया। उन्होंने कहा कि क्राइम बढ़ रहा है ये कैसे कह सकते हैं? रजिस्ट्रेशन बढ़ रहा है, ये कहना चाहिए। क्राइम का रजिस्ट्रेशन बढ़ा है, इसलिए […]
rape cases photo

Read This More

error: Content is protected !!