न इंसान, न बकरी… अजगर के पेट से जो निकला देखकर यकीन नहीं कर पाएंगे आप

जानवरों के खानपान का तरीका इंसानों से बिल्कुल अलग है। इंसान चबाकर खाते हैं लेकिन अजगर जैसे जानवर निगल लेते हैं। ‘Jungle News’ की कड़ी में आप महिला को निगलने वाले अजगर के बारे में पढ़ चुके हैं लेकिन आज जिस कहानी को आप पढ़ेंगे, यकीन करना मुश्किल हो जाएगा लेकिन यह सच है।

अजगर के इंसान को निगलने की खबरें तो आपने पढ़ी होंगी, लेकिन एक विशालकाय पाइथन ने मगरमच्छ को ही खा लिया। शायद आप चौंक गए होंगे। जी हां, इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल है। इंस्टाग्राम और ट्विटर पर मौजूद वीडियो में देखा जा सकता है कि 18 फीट लंबे अजगर ने 5 फीट के मगरमच्छ को निगल लिया। उसके पेट को फाड़कर मगरमच्छ को निकाला जाता है। ‘जंगल न्यूज’ में आप पहले ही पढ़ चुके हैं कि कैसे अजगर इंसानों या बकरियों को अपना निवाला बना लेते हैं। लेकिन यह घटना बिल्कुल चौंकाने वाली है। मगरमच्छ का शरीर इंसानों की तरह नहीं होता है।
यह वीडियो आपके रोंगटे खड़े कर देगा। शायद आप देखते-देखते वीडियो को बंद भी कर दें लेकिन यह सच्चाई को दिखाता है। Rosie Moore ने इंस्टाग्राम पर इस वीडियो को पोस्ट किया है। इसमें कई अलग-अलग तस्वीरें दिखाई देती हैं। एक हिस्से में अजगर का शरीर फूला हुआ दिखता है। एक्सपर्ट उसके शरीर को एक तरफ से पुश करते हैं और अगली तस्वीर में उसका पेट फाड़ दिया जाता है और फिर 5 फीट का मगरमच्छ दिखाई दे जाता है। सबसे बड़े एलीगेटर की बात करें तो यह करीब 16 फीट का हो सकता है।
बताया गया है कि यह एक बर्मीज पाइथन है जिसकी लंबाई 18 फीट है। रोजी ने लिखा है कि बर्मीज पाइथन दुनिया के सबसे बड़े अजगरों में से एक होता है, जिनकी लंबाई 20 फीट से भी अधिक हो सकती है। उन्होंने लिखा है कि इस अजगर को जिसने देखा तो मार दिया और फिर इसे रिसर्च लैब लेकर आया गया, जिससे चीड़-फाड़ की जा सके और सैंपल लिया जा सके। इस प्रक्रिया को वीडियो में दिखाया गया है।
दक्षिण फ्लोरिडा के सबट्रॉपिकल वातावरण के कारण बर्मीज पाइथन लंबा जीवन जीते हैं और उनका परिवार भी तेजी से बढ़ता है। ये नेशनल पार्क जैसी संवेदनशील जगहों में भी घुस जाते हैं जिससे जंगली जानवरों के लिए खतरा पैदा हो जाता है। इस घटना से साफ है कि अजगर कुछ भी खा सकता है।
अगर आपके मन में सवाल हो कि अजगर निगलते ही क्यों है तो यह जान लीजिए कि अजगर के मुंह में दांत होते हैं और ये सुई की नोंक जैसे नुकीले होते हैं। ये अपना भोजन चबाते नहीं हैं। पहले ये शिकार को इतनी मजबूती से जकड़ते हैं कि वह दम तोड़ देता है। अजगर दांतों का इस्तेमाल कर अपने शिकार को पकड़ लेते हैं और फिर धीरे-धीरे निगलना शुरू कर देते हैं। वो चाहे बकरी हो, इंसान या फिर मगरमच्छ ही क्यों न हो।
अभी ज्यादा दिन नहीं हुए, जब इंडोनेशिया में 22 फीट के अजगर ने महिला को निगल लिया था। उस केस में भी अजगर के पेट को फाड़कर महिला के शव को निकाला गया था। यह भी जान लीजिए कि अजगर के पेट से किसी का जीवित निकला चमत्कार जैसा है। एक्सपर्ट का कहना है कि ऐसे मामले तभी हो सकते हैं जब अजगर बड़ा हो। उसे भूख लगी हो और कोई गरम चीज (इंसान या जानवर) की ऐक्टिविटी दिखे तो वे हमला कर सकते हैं।
समझने वाली बात ये है कि अजगर की नजर काफी कमजोर होती है। वे किसी चीज की गर्मी से समझते हैं कि आगे कुछ ऐसा है जिसे वह खा सकते हैं, इसे थर्मल स्कैनिंग कह सकते हैं। ऐसे में अगर अजगर से सामना हो गया और कुछ गर्म चीज आपके पास है तो दूर फेंक दीजिए और मूवमेंट बिल्कुल न कीजिए। हीट सेंसिंग पावर तेज होने के कारण ही ये अंधेरे में भी हमला कर देते हैं।

 

Share This:

Next Post

सर्दियों में जरा सी चूक बच्‍चे को दे सकती है निमोनिया, ऐसे करें लक्षणों की पहचान

Wed Nov 16 , 2022
निमोनिया का टीका न्यूमोकॉकॉल कोन्जुगेट है. यह टीका डेढ़ माह, ढाई माह, साढ़े तीन माह और 15 माह में लगाया जाता है. कुपोषण के शिकार बच्चों को निमोनिया आसानी से चपेट में ले लेता है. सर्दियों में जरा सी चूक से बच्चे निमोनिया की गिरफ्त में आ […]
error: Content is protected !!