Killers Rajiv Gandhi जेल से छूटते ही कैसे राजीव के हत्यारे नलिनी और रविचंद्रन ने रंग बदल दिया

Estimated read time 1 min read

Killers Rajiv Gandhi: पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी हत्याकांड के छह दोषियों को समय-पूर्व रिहा किये जाने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले से नलिनी श्रीहरन का परिवार काफी खुश है।

नलिनी की मां एस. पद्मा ने कहा खुशी के भाव शब्दों में बयां नहीं किये जा सकते। इस खुशी का कोई ठिकाना नहीं है, बल्कि (यह) असीम आनंद की अनुभूति के अलावा और कुछ नहीं है।

Killers Rajiv Gandhi
Killers Rajiv Gandhi

 

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने राजीव गांधी हत्या  Rajiv Gandhi Killers  मामले में नलिनी श्रीहरन और आर पी रविचंद्रन समेत 6 दोषियों की समय पूर्व रिहाई का शुक्रवार को निर्देश दिया। जेल से रिहा होते ही रविचंद्रन और नलिनी ने ‘विक्टिम कार्ड’ खेलना शुरू कर दिया है। जेल से रिहा होने के बाद रविचंद्रन ने कहा कि उत्तर भारत के लोगों को हमें आतंकी या हत्यारे के तौर पर देखने की बजाय पीड़ित के रूप में देखना चाहिए।

वहीं नलिनी ने दावा किया कि उसके इस दृढ़ विश्वास ने उसे इतने वर्षों तक जीवित रखा कि वह निर्दोष है। नहीं तो मैं अपनी जीवन लीला समाप्त कर लेती। क्या आपको लगता है कि मैंने पूर्व प्रधानमंत्री की हत्या की है। मेरे ऊपर हत्या के 17 मामले दर्ज किए गए हैं।

उत्तर भारत के लोगों को हमें आतंकवादी की तरह नहीं पीड़ित के रूप में देखना चाहिए

Killers Rajiv Gandhi: रिहाई के बाद रविचंद्रन ने कहा कि समय और सत्ता यह तय करती है कि कौन आतंकवादी है और स्वतंत्रता सेनानी है। समय बताएगा कि हम निर्दोष हैं चाहे हम आतंकवादी होने का ही आरोप क्यों न हो। 3 दशक बाद जेल से बाहर आने के बाद रविचंद्रन ने कहा कि समय हमें निर्दोष के रूप में आंकेगा।

रविचंद्रन ने कहा कि उत्तर भारत के लोगों को हमें आतंकवादियों या हत्यारों की तरह नहीं बल्कि पीड़ित के रूप में देखना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट ने राजीव गांधी हत्याकांड Rajiv Gandhi Killers में करीब तीन दशक से उम्रकैद की सजा काट रही नलिनी और पांच अन्य शेष दोषियों को समय से पहले रिहा करने का शुक्रवार को निर्देश दिया था।

नहीं तो मैं अपनी जीवन लीला समाप्त कर लेती

Rajiv Gandhi Killers
Rajiv Gandhi Killers
मेरे इस विश्वास ने मुझे इतने साल तक जीवित रखा कि मैं निर्दोष हूं। नलिनी ने लंदन में अपनी बेटी के पास जाने और भविष्य में अपने पति और बेटी की देखभाल की इच्छा जताई। नलिनी श्रीहरन ने कहा कि प्रियंका गांधी ने उनसे वर्ष 2008 में जेल में मुलाकात के दौरान अपने पिता राजीव गांधी की हत्या के बारे में पूछा।

“मुझे इस विश्वास ने इतने साल तक जिंदा रखा कि मैं दोषी नहीं हूं। नहीं तो मैं अपनी जीवन लीला समाप्त कर लेती। क्या आपको लगता है कि मैंने पूर्व प्रधानमंत्री की हत्या की है।” नलिनी

Killers Rajiv Gandhi: नलिनी ने मुलाकात के बारे में एक सवाल का जवाब देते हुए यहां संवाददाताओं से कहा कि प्रियंका गांधी जब एक दशक पहले वेल्लोर केंद्रीय कारागार में उनसे मिलीं तो वे भावुक हो गईं और रो पड़ीं। फिलहाल कांग्रेस पार्टी की नेता गांधी ने नलिनी से मुलाकात के दौरान अपने पिता की हत्या के बारे में जानना चाहा था।

नलिनी ने कहा कि वह जो कुछ भी जानती थी, उसके बारे में उन्हें बता दिया। उसने कहा कि मुलाकात में हुई अन्य बातों का खुलासा नहीं किया जा सकता क्योंकि यह प्रियंका के निजी विचारों से संबंधित है। नलिनी को 12 नवंबर को उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद रिहा कर दिया गया था।

देश दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म–कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें Social Awaj News ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Social Awaj फेसबुकपेज लाइक करें

Share This:

You May Also Like

More From Author