एक युवा क्रांतिकारी जिससे घबराती थी अंग्रेजी हुकूमत!

1
May be an image of 1 person and standing
शहीद राजेंद्रनाथ लाहिड़ी (Rajendra Nath Lahiri) को देशभक्ति और क्रांतिकारी (Revolutionary) की राह विरासत में मिली थी. एक क्रांतिकारी होने के साथ ही वे बुद्धिजीवी और कई समाचार पत्रों के लिए लेखन का काम भी किया करते थे. काकोरी क्रांति (Kakori Kranti) में रेलगाड़ी की चेन खींचने का काम लाहिड़ी ने ही किया था और गिरफ्तार होने के बाद उन्होंने फांसी की सजा को खुशीखुशी स्वीकार किया. अंग्रेजों ने उन्हें तय समय से दो दिन पहले, 17 दिसंबर 1927 ही फांसी दे दी थी जबकि इसके दो दिन बाद बाकी लोगों को फांसी दी गई.
क्रांतिकारी राजेंद्रनाथ लाहिड़ी (Rajendra Lahiri) जिन्होंने 26 साल की उम्र में फांसी के फंदे को निर्भीकता से अपने गले लगाया था. वह उस दौर में युवाएं के लिए प्रेरणा और आदर्श बना गए थे. 17 दिसंबर 1927 को अंग्रेज सरकार ने घबरा कर तय समय से दो दिन पहले ही फांसी दे दी थी
राजेंद्र लाहिड़ी हमेशा ही एक शांत स्वभाव के व्यक्ति माने जाते थे लेकिन उनके भीतर क्रांति की तीव्र ज्वाला पालने वाले राजेंद्र हमेशा मुस्कुराते रहते थे. जब उन्हें पढ़ाई के लिए वाराणसी भेजा गया, तो वे सचिन्द्रनाथ सान्याल के संपर्क में आए जो हिंदुस्तान रिवॉल्यूशनरी एसोसिएशन के संस्थापकों में से एक जिसकी अगुआई राम प्रासद बिस्मिल कर रहे थे. महान क्रांतिकारी को अन्नत कोटि वंदन, स्वतंत्रता का सूर्य बिना आपके बलिदान के संभव न था.
Share This

One thought on “एक युवा क्रांतिकारी जिससे घबराती थी अंग्रेजी हुकूमत!

Comments are closed.

Next Post

सडक़ हादसा भाजपा सरकार की अदूरदर्शिता का परिणाम : भूपेन्द्र सिंह हुड्डा

Sat Jun 25 , 2022
                          road-accident-result-of-short-sightedness-of-bjp-government-bhupinder-singh-hooda नेता प्रतिपक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा, विधायक भारत भूषण बत्तरा, पूर्व विधायक संत कुमार, राजीव गुगनानी व चक्रवर्ती शर्मा सोनीपत के साथ बहालगढ़ में हुए हादसे में घायल हुए एमबीबीएस के छात्रों से मिलने पीजीआई के ट्रामा सेंटर पहुंचे। इस अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने हादसे पर दुख जताते हुए कहा कि यह सब भाजपा सरकार की अदूरदर्शिता का परिणाम है। जिसमें 3 छात्रों की जान चली गई तथा 3 अभी घायल हैं। उन्होंने कहा कि सोनीपत के नेशनल हाईवे अथॉरिटी […]
error: