Amritpal Singh Absconding: पंजाब में 24 घंटे और बंद रहेगा इंटरनेट, पुलिस अमृतपाल के पिता से बोली- सरेंडर करवा दो

Estimated read time 1 min read

Amritpal Singh Absconding: खालिस्तान समर्थक और वारिस पंजाब दे का चीफ अमृतपाल सिंह फरार है. पंजाब पुलिस के मुताबिक शनिवार के ऑपरेशन में सात लोग गिरफ्तार किए गए, लेकिन वह भागने में कामयाब रहा.

अमृतपाल सिंह के पिता ने दावा किया है कि पुलिस ने उनके घर की तलाशी ली लेकिन उन्हें कुछ भी आपत्तिजनक नहीं मिला. उन्होंने कहा कि पुलिस को अपनी एनर्जी अमृतपाल पर लगानी के बजाय ड्रग एडिक्शन को खत्म करने पर लगाना चाहिए.

Amritpal Singh Absconding
Amritpal Singh Absconding

खालिस्तान समर्थक और वारिस पंजाब दे का चीफ अमृतपाल सिंह फरार है. पंजाब पुलिस के मुताबिक शनिवार के ऑपरेशन में सात लोग गिरफ्तार किए गए, लेकिन वह भागने में कामयाब रहा.

पुलिस ने उसके घर की भी तलाशी ली और उसके पिता को निर्देश दिया कि वह अपने बेटे को सरेंडर करने के लिए कहें. पंजाब पुलिस ने घर की तलाशी से इनकार किया, लेकिन अमृतपाल के पिता तरसीम सिंह का दावा है कि पुलिस को तलाशी में कुछ भी आपत्तिजनक नहीं मिला.

राज्य में इंटरनेट सेवा को 20 मार्च तक के लिए बैन

Amritpal Singh Absconding: रिपोर्ट्स के मुताबिक, पंजाब पुलिस और सेंट्रल सिक्योरिटी फोर्सेज ने शनिवार को अमृतसर के पास उसके गांव जल्लापुर खेड़ा को छावनी बना दिया था और उसके घर को चारो तरफ से घेर लिया था. अमृतपाल के आस- पड़ोस के लोग अपने घरों की छत से पुलिस गतिविधियों को देख रहे थे, लेकिन पूछे जाने पर उन लोगों ने अपना मुंह नहीं खोला.

इस बीच पंजाब सरकार ने राज्य में इंटरनेट सेवा को 20 मार्च तक के लिए बैन कर दिया है. पंजाब गृह विभाग की तरफ से जारी बयान के मुताबिक, इस दौरान बैंकिंग सर्विसेज और मोबाइल रिचार्ज जैसी सेवाएं जारी रहेंगी. सरकार ने यह फैसला लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लिया है, और प्रतिबंध 20 मार्च 12 बजे तक जारी रहेंगे.

‘ मेरा बेटा सिख धर्म को कर रहा प्रमोट ’

Amritpal Singh Absconding: अमृतपाल सिंह के पिता तरसीम सिंह ने दावा किया कि पुलिस ने उनके घर की तलाशी ली, लेकिन उन्हें कुछ भी नहीं मिला. उन्होंने कहा कि समझ से परे है कि आखिर पुलिस उनके बेटे के पीछे क्यों पड़ी है, जो सिर्फ सिख धर्म को प्रमोट कर रहा है और लोगों को ड्रग छोड़ने के लिए प्रेरित कर रहा है. उन्होंने कहा कि पुलिस को ‘ मेरे बेटे का पीछा करने से बेहतर अपनी एनर्जी ड्रग एडिक्शन को खत्म करने पर लगानी चाहिए. ’

सतीश कोशिक की अस्‍पताल पहुंचने से पहले ही मौत हो गई थी, पुलिस कई एंगल से कर रही जांच

अमृतपाल सिंह के पिता ने कहा कि उन्हें नहीं पता कि पुलिस यहां( उनके घर) क्यों आई, जबकि अमृतपाल शेड्यूल के मुताबिक धार्मिक कार्यक्रम के लिए जा रहा था. उन्होंने कहा, ‘ मुझे बाद में पता चला कि पुलिस उसका पीछा कर रही है. मैं इसके अलावा और कुछ नहीं जानता. ’

पुलिस ने किया गांव का सर्वे, स्थानीय से की बात

Amritpal Singh Absconding: टाइम्स ऑफ इंडिया ने सूत्रों के हवाले से बताया कि पुलिस टीम ने शनिवार को जल्लापुर खेड़ा गांव का सर्वे किया और स्थानीय लोगों से भी बातचीत की. यहां अमृतपाल सिंह के गांव को जाने वाली सड़कों पर बैरिकेडिंग भी की गई थी.

हालांकि अमृतपाल के कुछ समर्थक इकट्ठा भी हुए और विरोध करने की कोशिश की, लेकिन बाद में पुलिस ने उन्हें तितर- बितर कर दिया. रिपोर्ट के मुताबिक, शाम तक पुलिस ने भी गांव को खाली कर दिया था.

देशदुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्मकर्मपाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें Social Awaj News ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Social Awaj फेसबुकपेज लाइक करें

Share This:

You May Also Like

More From Author