Police Lathi Charge: चूरू में नाबालिग लड़की का अपहरण, प्रदर्शनकारियों पर पुलिस का लाठीचार्ज

Estimated read time 1 min read

Police Lathi Charge: चूरू जिला मुख्यालय से बीते से 11 मार्च को एक नाबालिग लड़की के अपहरण की हुई वारदात से हंगामा मच गया है. वारदात के विरोध में शुक्रवार को आक्रोशित लोगों ने रैली निकालकर कलक्ट्रेट के सामने सड़क जामकर उग्र प्रदर्शन किया.

राजस्थान के चूरू मुख्यालय से बीते 11 मार्च को अपहृत की गई नाबालिग लड़की के केस ने तूल पकड़ लिया है. आक्रोशित लोगों ने इसमें लव जिहाद का आरोप लगाते हुए शुक्रवार को उग्र प्रदर्शन किया. इस दौरान पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज कर दिया. इससे मामला और बिगड़ गया.

Police Lathi Charge
Police Lathi Charge

चूरू. चूरू जिला मुख्यालय से बीते से 11 मार्च को एक नाबालिग लड़की के अपहरण( Kidnapping Case) की हुई वारदात से हंगामा मच गया है. वारदात के विरोध में शुक्रवार को आक्रोशित लोगों ने रैली निकालकर कलक्ट्रेट के सामने सड़क जामकर उग्र प्रदर्शन किया. इस दौरान पुलिस ने भीड़ को तितर बितर करने के लिए हल्का लाठीचार्ज किया.

इस मामले में लव जिहाद की आशंका जताई

Police Lathi Charge: प्रदर्शन कर रही भीड़ ने इस मामले में लव जिहाद( Love Jihad) की आशंका जताई है. इस दौरान लव जिहाद के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई. उसके बाद पुलिस ने देर रात नाबालिग को दस्तायाब कर लिया.

बताया जा रहा है कि पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को भी राउंडअप किया है. बरामद की गई लड़की को दूधवाखारा पुलिस थाने ले गया है. वहां पर पुलिस अधिकारियों और भारी पुलिस बल का जमावड़ा लगा है.

तीन नामजद आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज

Police Lathi Charge: दरअसल, 11 मार्च की रात को चूरू के धर्मस्तूप के पास से 17 साल की एक लड़की को अगवा कर लिया गया था. नाबालिग लड़की के पिता ने इस मामले में तीन नामजद आरोपियों के खिलाफ महिला थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी.

रिपोर्ट में अंदेशा जताया गया था कि आरोपी उसकी बेटी के साथ किसी वारदात को अंजाम दे सकते हैं. पुलिस ने भी नामजद आरोपियों के खिलाफ अपहरण की धारा में मामला दर्ज किया था. केस दर्ज होने के 6 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली होने से लोगों का गुस्सा फूट पड़ा.

पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच धक्का मुक्की से बिगड़ा माहौल

Police Lathi Charge: गुस्साए सर्वसमाज लोगों ने शुक्रवार को चूरू मुख्यालय पर जमकर प्रदर्शन किया. आक्रोशित लोगों ने पहले इंद्रमणि पार्क से कलक्ट्रेट तक आक्रोश रैली निकाली. इस दौरान पहले धर्म स्तूप, फिर रेलवे स्टेशन और बाद फिर कलक्ट्रेट के सामने चूरू- जयपुर मार्ग पर को जाम कर दिया गया.

मेघालय में बीजेपी की करारी हार की तीन बड़ी वजहें जानिए

कलक्ट्रेट के मुख्य द्वार पर पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच धक्का मुक्की हो गई. इससे माहौल एक बारगी तनावपूर्ण हो गया. इस पर पुलिस को वहां हल्का बल का प्रयोग करना पड़ा.

लव जिहाद के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई

Police Lathi Charge: प्रदर्शन के दौरान लव जिहाद के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई. बाद में बीजेपी नेता हरलाल सहारण की अगुवाई में प्रतिनिधिमंडल ने जिला कलेक्टर सिद्धार्थ सिहाग को ज्ञापन दिया गया. ज्ञापन में आरोपियों की गिरफ्तारी तथा नाबालिग लड़की की बरामदगी की मांग की गई.

बीजेपी नेता ने चेतावनी दी कि यदि 5 दिनों में पुलिस की ओर से कार्रवाई नहीं की जाती है तो चूरू बंद किया जाएगा. प्रदर्शन के दौरान लोगों में पुलिस के खिलाफ खासा आक्रोश देखा गया. पुलिस का कहना था कि टीमें बनाकर कई जगह दबिश दी गई लेकिन आरोपियों का कोई सुराग नहीं लग पाया.

दूधवाखारा थाने में लगा पुलिस अधिकारियों का जमावड़ा

Police Lathi Charge: उसके बाद पुलिस ने अगवा की गई नाबालिग लड़की को शुक्रवार रात को बरामद कर लिया. उसके साथ एक लड़के को भी पकड़ा गया है. बाद में दोनों को दूधवाखारा थाने ले जाया गया. देर रात वहां एसपी राजेश कुमार और एएसपी राजेन्द्र मीणा तथा भारी पुलिस फोर्स पहुंची.

उन्होंने वहां दोनों से पूछताछ की. घटना की गंभीरता को देखते हुए चूरू शहर के कई इलाकों में पुलिस के जवानों को तैनात किया गया है. बताया जा रहा है कि पुलिस ने दो अन्य आरोपियों को भी राउंडअप किया है. फिलहाल पुलिस लड़की और लड़के से पूछताछ करने में जुटी है.

देशदुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्मकर्मपाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें Social Awaj News ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Social Awaj फेसबुकपेज लाइक करें

Share This:

You May Also Like

More From Author