CM Revanth Reddy: तेलंगाना के नए CM के रूप में रेवंत रेड्डी आज लेंगे शपथ, गांधी परिवार भी होगा शामिल

Estimated read time 1 min read

CM Revanth Reddy: 56 वर्षीय रेवंत रेड्डी आज यानी गुरुवार को तेलंगाना के नए मुख्यमंत्री बनेंगे. वह आज मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. तेलंगाना कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रेवंत रेड्डी 10 साल से अधिक समय तक सत्ता पर काबिज रहे चंद्रशेखर राव की जगह लेंगे. शपथ ग्रहण समारोह हैदराबाद के एल. बी. स्टेडियम में दोपहर 1 बजे आयोजित किया जाएगा.

56 वर्षीय रेवंत रेड्डी आज तेलंगाना के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे. मुख्यमंत्री के रूप में पदभार संभालने वाले रेवंत रेड्डी ने कल दिल्ली में अखिल भारतीय कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी से मुलाकात की और बधाई स्वीकार की. साथ ही कहा जा रहा है कि सोनिया गांधी आज रेवंत रेड्डी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगी.

CM Revanth Reddy
CM Revanth Reddy

तेलंगाना: 56 वर्षीय रेवंत रेड्डी आज यानी गुरुवार को तेलंगाना के नए मुख्यमंत्री बनेंगे. वह आज मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. तेलंगाना कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रेवंत रेड्डी 10 साल से अधिक समय तक सत्ता पर काबिज रहे चंद्रशेखर राव की जगह लेंगे. शपथ ग्रहण समारोह हैदराबाद के एल. बी. स्टेडियम में दोपहर 1 बजे आयोजित किया जाएगा. इस कार्यक्रम में सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा सहित लगभग एक लाख लोगों के शामिल होने की उम्मीद है

CM Revanth Reddy: मुख्यमंत्री के रूप में पदभार संभालने वाले रेवंत रेड्डी ने कल दिल्ली में अखिल भारतीय कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी से मुलाकात की और बधाई स्वीकार की. तेलंगाना विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को भारी जीत मिली है. जीत के बाद पार्टी ने घोषणा की कि रेवंत रेड्डी तेलंगाना के नए मुख्यमंत्री बनेंगे.

मिचौंग तूफान बरपा सकता है कहर, IMD ने जारी किया रेड अलर्ट, NDRF की 18 टीमें तैनात

कौन हैं रेवंत रेड्डी?

CM Revanth Reddy: रेवंत रेड्डी का जन्म 1969 में अविभाजित आंध्र प्रदेश के महबूबनगर में हुआ था. रेड्डी ने अपनी छात्र राजनीति की शुरुआत एबीवीपी से की थी. बाद में चंद्रबाबू नायडू की तेलुगु देशम पार्टी में शामिल हो गए. 2009 में वह तेलुगु देशम पार्टी की ओर से आंध्र प्रदेश के कोडंगल निर्वाचन क्षेत्र से विधायक चुने गए. 2014 में, उन्हें तेलंगाना विधानसभा में तेलुगु देशम पार्टी का अध्यक्ष चुना गया था.

रेवंत रेड्डी 2017 में कांग्रेस में शामिल हुए, लेकिन 2018 का विधानसभा चुनाव हार गए. हालांकि, कांग्रेस ने उन पर भरोसा बनाए रखा. 2019 के लोकसभा चुनाव में उन्हें मल्काजगिरी से प्रत्याशी बनाया गया, जिस पर उन्होंने जीत हासिल की. 2021 में कांग्रेस ने उन्हें बड़ी जिम्मेदारी दी और प्रदेश अध्यक्ष बनाया. इसके बाद उन्होंने संघर्ष करते हुए मुख्यमंत्री पद तक का सफर तय किया.

चुनौती पूरी करने वाले रेवंत रेड्डी

CM Revanth Reddy: 2015 में रेवंत रेड्डी के खिलाफ वोट के लिए पैसे देने का मामला दर्ज किया गया था. उस वक्त उस केस से जमानत पर बाहर आए रेवंत रेड्डी ने के. चंद्रशेखर राव को चुनौती दी. उन्होंने कहा, ”मैं अपनी गिरफ्तारी कभी नहीं भूलूंगा. मैं एक दिन मुख्यमंत्री पद पर बैठे आपको उस कुर्सी से उखाड़ फेकूंगा. अगर मैं उस दिन मर भी जाऊं, तो भी मुझे खुशी होगी.”ठीक 8 साल बाद यानी 2023 में अपनी चुनौती पूरी करने वाले रेवंत रेड्डी हैदराबाद में सांसद बन गए. वह आज दोपहर 1 बजे स्टेडियम में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. गौरतलब है कि रेवंत रेड्डी देश के नए राज्य तेलंगाना के दूसरे नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे.

देशदुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्मकर्मपाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें Social Awaj News ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Social Awaj फेसबुकपेज लाइक करें

Share This:

You May Also Like

More From Author