Kshatriya Mahasabha Worshiped Weapons: अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने शस्त्र पूजन कर राष्ट्र और स्वाभिमान की रक्षा का लिया संकल्प

Estimated read time 1 min read

Kshatriya Mahasabha worshiped weapons: महासभा के दिल्ली प्रदेश उपाध्यक्ष राणा सुजीत सिंह के सैनिक फॉर्म स्थित आवास पर आयोजित समारोह में राष्ट्रीय अध्यक्ष राजा मानवेंद्र सिंह सहित देश भर के राजपूत समाज के जागरूक लोगों ने की शिरकत

Kshatriya Mahasabha Worshiped Weapons
Kshatriya Mahasabha Worshiped Weapons

अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने दिल्ली प्रदेश उपाध्यक्ष राणा सुजीत सिंह के नई दिल्ली के नेवी वैली सैनिक फार्म में आयोजित शस्त्र पूजन समारोह में शस्त्र पूजा कर राष्ट्र की संरक्षा और स्वाभिमान की रक्षा का संकल्प लिया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत किए अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजा मानवेंद्र सिंह ने शस्त्र पूजन के साथ समारोह में उपस्थित राजपूत समाज सहित सभी समाज के नागरिकों को दशहरा की हार्दिक शुभकामनाएं दी।

राजपूत समाज की परंपरा और इतिहास

Kshatriya Mahasabha worshiped weapons: राजा मानवेंद्र सिंह ने कहा कि शस्त्र पूजन और समाज एवं राष्ट्र की सुरक्षा के लिए शस्त्र चलाना राजपूत समाज की परंपरा और इतिहास रहा है। इसलिए हम सभी समाज के लोगों को परंपरा संस्कृति और सभ्यता को बनाए रखने के लिए शस्त्र पूजन करना चाहिए। राजा मानवेंद्र सिंह ने राजपूत समाज का आह्वान किया कि अपने स्वाभिमान और राष्ट्र के गौरव की रक्षा के लिए हर समय अपना प्रयास जारी रखें।

इजराइल में फंसे भारतीयों के लिए भारत का खास संदेश, हेल्पलाइन नंबर भी जारी

बच्चों को शिक्षित करने के साथ उन्हें आत्मरक्षा और समाज की परंपरा की जानकारी भी अवश्य दें। दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष उदयवीर सिंह चौहान और उपाध्यक्ष राणा सुजीत सिंह ने कार्यक्रम के दौरान महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजा मानवेंद्र सिंह सहित क्षत्रिय समाज के सभी गणमान्य नागरिकों का हार्दिक स्वागत एवं अभिनंदन किया। उन्होंने कहा कि राष्ट्र की रक्षा के लिए हर समय आगे रहना क्षत्रिय समाज की परंपरा रही है।

शस्त्र पूजन के कार्यक्रम का आयोजन

Kshatriya Mahasabha worshiped weapons: राजपूत समाज ने अपने स्वाभिमान की रक्षा के लिए भी अस्त्र उठाए हैं, इसलिए शस्त्र पूजन के कार्यक्रम का आयोजन किया गया। राणा सुजीत सिंह ने सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए क्षत्रिय समाज को एकजुट होकर अपने अधिकारों की रक्षा करने के लिए प्रयास जारी रखने का आह्वान किया।

कार्यक्रम में दिल्ली के साथ हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार, पंजाब चंडीगढ़, राजस्थान, मध्य प्रदेश आदि राज्यों से भी क्षत्रिय समाज के हजारों नागरिकों ने सहभागिता की और सभी ने एक साथ शस्त्र पूजन कर राजपूत समाज की संस्कृति सभ्यता और परंपरा को बनाए रखने का संकल्प लिया। कार्यक्रम के दौरान विशाल सहभोज का भी आयोजन किया गया

देशदुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्मकर्मपाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें Social Awaj News ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Social Awaj फेसबुकपेज लाइक करें

Share This:

You May Also Like

More From Author